पखेरू

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

पखेरू संज्ञा पुं॰ [सं॰ पक्षालु, प्रा॰ पक्खाडु] पक्षी । चिड़िया । उ॰—मधुबन तुम कत रहत हरे । विरह वियोग श्याम सुंदर के ठाढ़े क्यों न जरे ?......ससा स्यार औ बन के पखेरू धिक धिक सबन करे ।—सूर (शब्द) ।