पाली

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

नामवाचक संज्ञा

  1. एक प्राचीन भाषा, जो संस्कृत से काफ़ी मिलती है

अनुवाद

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

पाली ^१ वि॰ [सं॰ पालिन्] [वि॰ स्त्री॰ पालिनी]

१. पालन करनेवाला । पोषण करनेवाला ।

२. रखनेवाला । रक्षा करनेवाला ।

पाली ^२ संज्ञा पुं॰ पृथु के पुत्र का नाम । (हरिवंश) ।

पाली ^३ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ पल्लि (= विशिष्ट स्थान)] वह स्थान जहाँ तीतर, बुलबुल, बटेर आदि पक्षी लड़ाए जाते हैं ।

पाली ^४ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ या सं॰ पालि (= बरतन)]

१. बरतन का ढक्कान । पारा । परई ।

२. दे॰ 'पलि' ।

पाली पु ^६ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ पल्यडक] पालकी । उ॰— होउ बाध्यउ पाटको । पालीय परगह अंत न पार ।— बी॰ रासो, पृ॰ १३ ।

पाली ^७ संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ पारी] पारी । बारी ।

यह भी देखिए