प्राक्तन

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

प्राक्तन ^१ संज्ञा पुं॰ [सं॰] वह कर्म जो पहले किया जा चुका हो और आगे जिसका शुभ और अशुभ फल भोगना पड़े । भाग्य । प्रारब्ध ।

प्राक्तन ^२ वि॰ प्राचीन । पुराना । पहले का ।