फीरोजा

विक्षनरी से
नेविगेशन पर जाएँ खोज पर जाएँ


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

फीरोजा संज्ञा पुं॰ [फा़॰;मि॰ सं॰ परेज, पेरोज] एक प्रकार का नग या बहुमूल्य पत्थर जो हरापन लिए नीले रंग का होता है । विशेष—इसमें अलमीनियम फासफेट और कुछ लोहे ओर ताँबे का योग होता है । अच्छा फीरोजा फारस की पहाड़ियों में होता है जहाँ से रोम होता हुआ यह यूरोप गया । अमेरिका से भी फीरोजा बहुत आता है । इसकी गिनती रत्नों में है और यह आभूषणों मे जड़ा जाता है । हलके मोल के पत्थर पच्चीकारी में भी काम आते हैं । वैद्य लोग इसका व्यवहार औषध के रूप में भी करते हैं । यह कसैला, मीठा और दीपन कहा गया है । पर्या॰—हरिताश्म भस्मांग । पेरोज ।