बरामदा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बरामदा संज्ञा पुं॰ [फा॰ बरामदह्]

१. मकानों में छाया हुआ वह तंग और लंबा भाग जो मकान की सीमा के कुछ बाहर निकला रहता है और जो खंभो, रेलिंग या घुड़िया आदि के आधार पर ठहरा हुआ होता है । बारजा । छज्जा ।

२. मकान के आगे का वह स्थान जो ऊपर से छाया या पटा हो पर सामने या तीनों ओर खुला हो । दालान । ओसारा ।