सामग्री पर जाएँ

बेखुदी

विक्षनरी से


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

बेखुदी संज्ञा स्त्री॰ [फ़ा॰ बेखुदी] आत्मविस्मृति । उ॰— जबतक तुम किसी के हो नहीं गए तबतक, बेखुदी का मीठा मीठा मजा मिलने का नहीं ।—पोद्दार अभि॰ ग्रं॰, पृ॰ १८४ ।