मंजरि

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मंजरि पु संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ मञ्जरि] दे॰ 'मंजरी' । उ॰—(क) मंजुल मंजरि तुलसि विराजा ।—मानस, १ ।११० । (ख) जै श्री राधा रसिक रस मंजरि प्रिय सिर मौंर ।—पोद्दार अभि॰ ग्रं॰, पृ॰ ३८१ ।