मंडलक

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

मंडलक संज्ञा पुं॰ [सं॰ मण्डलक]

१. दे॰ 'मंडल' ।

२. दर्पण ।

३. घेरादार वरतु । उ॰—ऊपरवाले किनारे पर एक घुंडी या मंडलक होता है—भोतिक॰, पृ॰ ३९५ ।