रोगन

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

रोगन संज्ञा पुं॰ [फा़॰रौग़न]

१. तेल । चिकनाई ।

२. पतला लेप जिसे किसी वस्तुपर पोतने से चमक, चिकनाई और रंग आवे । पालिश । वारनिश ।

३. लाख आदि से बना हुआ मसाला जिसे मिट्टी के बर्तनों आदि पर चढ़ाते हैं ।

४. चमड़े को मुलायम करने के लिये कुसुम या बर्रे के तेल से बनाया हुआ मसाला । यौ॰—रोगनजोश =एक तरह का साबुन । रोगनदाग =छीँकने का चम्मच । रोगनदार । रोगनफरोश =तैलविक्रेता । तेली ।