लकड़दादा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

लकड़दादा संज्ञा पुं॰ [हिं॰] दादाओं का भी दादा । अति प्राचीन पुरखा । (व्यंग्य) । उ॰—एक शाप । दाँत पीसकर, हाथ उठाकर, शिखा खोलते हुए चाणक्य का लकड़दादा बन जाऊँगा ।—स्कंद॰, पृ॰ १०६ ।