लगनवट

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

लगनवट पु † संज्ञा स्त्री॰ [हिं॰ लगन + वट (प्रत्य॰)]

१. लगन । प्रेम । मुहब्बत । उ॰— पाही खेती लगनवट ऋतु कुव्याज मग खेत । बैर बड़े सों आपने किए पाँच दुख हेत ।—तुलसी (शब्द॰) ।

लगनवट † ^२ संज्ञा पुं॰ दे॰ 'लगनहट' ।