लालसा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

लालसा संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. किसी पदार्थ को प्राप्त करने की बहुत अधिक उत्कंठा या अभिलाषा । बहुत अधिक इच्छा या चाह । लिप्सा । उ॰—एक लालसा बड़ि उर माँही । सुगम अगम सुजात कहि नाहीं ।—तुलसी (शब्द॰) ।

२. उत्सुकता ।

३. वह अभिलाषा जो गर्भिणी स्त्री के मन में गर्भावस्था में उत्पन्न होती है । दोहद । विशेष दे॰ 'दोहद' ।

४. किसी से कुछ माँगना या चाहना ।

५. दुःख । अनुताप । खेद (को॰) ।

६. एक छंद का नाम (को॰) ।

लालसा वि॰ लोल । चंचल ।