वनिता

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

वनिता संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. अनुरक्ता स्त्री । प्रिया । प्रियतमा ।

२. स्त्री । औरत ।

३. छह वर्णों की एक वृत्ति जिसे 'तिलका' और 'डिल्ला' भी कहते हैं । इसमें दो सगण होते हैं । जैसे,—ससि बाल खरो । शिव भाल धरो ।

४. मादा (को॰) ।