विकारी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

विकारी ^१ वि॰ [सं॰ विकारिन्]

१. जिसमें विकार हो । विकार- युक्त ।

२. क्रोधादि मनोविकारों से युक्त । दुष्ट वासनावाला । उ॰—रे रे अंध बीसहूँ लोचन परतिय हरन । विकारी । सूने भवन गवन तै कीनो शेष रेख नहिं टारौ —सूर (शब्द॰) ।

३. जिसमें विकार या परिवर्तन हुआ हो । परिवर्तित । उ॰— तो हूं क्रोध न कियो विकारि । महादेव हू फिरे विहारि ।—सूर (शब्द॰) ।

४. परिवर्तनशील ।

५. प्रेमासक्त । आसक्त (को॰) ।

विकारी ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰] साठ संवत्सरों में से एक संवत्सर का नाम ।