विक्षनरी:हिन्दी–हिन्दी शब्दकोश/त, थ

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search
शब्द व्याकरण-१ व्या-२ व्या-३ व्या-४ व्या-५ अर्थ-१ अर्थ-२ अर्थ-३ अर्थ-४ अर्थ-५
तंग विशेषण विशेषण विशेषण - - संकरा, संकीर्ण; आवश्यकता से अधिक कसा हुआ और कुछ छोटा, चुस्त; परेशान, हैरान। - -
तंतु पुंलिंग - - - - ऊन, रेशम, सूत आदि का बटा हुआ डोरा, तागा; - - - -
तंदूर पुंलिंग - - - - एक तरह का चूल्हा जिसकी ऊंची गोलाकार दीवार के भीतरी भाग में रोटियां चिपका कर बनाई जाती है (ओवन)। - - - -
तंद्रा स्त्रीलिंग - - - - हलकी नींद, ऊंघ। - - - -
तंबाकू पुंलिंग - - - - एक प्रसिद्ध पौध और उसके पत्ते जो अनेक रूपों में नशे के लिए काम में लाए जाते हैं। - - - -
तंबू पुंलिंग - - - - शमियाना, खेमा। - - - -
तंबोली (तमोली) पुंलिंग - - - - पानलगाकर बेचने अथवा पान का व्यवसाय करनेवाला। - - - -
तकनीक स्त्रीलिंग - - - - शिल्प, पद्धति। - - - -
तकला पुंलिंग - - - - सूत कातने और लपेटने के काम आनेवाली चरखे से लगी लोहे की सलाई, टेकुआ। - - - -
तकलीफ स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - कष्ट, दुख, पीड़ा; विपत्ति, संकट। - - -
तख्त पुंलिंग पुंलिंग - - - राजसिंहासन; लकड़ी की बनी बड़ी चौकी। - - -
तख्ता पुंलिंग - - - - लकड़ी का आयाताकार बड़ा तथा समतल टुकड़ा। - - - -
तट पुंलिंग - - - - कूल, किनारा, तीर। - - - -
तटस्थ विशेषण - - - - विरोध, विवाद आदि के प्रसंगों में दोनों दलो से अलग और निर्लिप्त रहने वाला, निरपेक्ष। - - - -
तड़पना अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया - - - अत्यन्त दु:खी होना, छटपटाना, तिलमिलाना; किसी वस्तु के लिए बेचैन होना। - - -
तत्परता स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - उद्यत होने की अवस्था, गुण या भाव, सन्नद्धता; मनोयोगपूर्वक काम करने का भाव, तल्लीनता। - - -
तथा अव्यय अव्यय - - - दो चीजों, बातों आदि में योग या संगति स्थापित करने वाला एक योजक अव्यय, और; किसी के अनुरूप या अनुसार, वैसा ही। - - -
तथ्य पुंलिंग - - - - सत्यता, यथार्थता। - - - -
तन पुंलिंग - - - - शरीर, देह, जिस्म। - - - -
तना पुंलिंग - - - - पेड़-पौधों का जमीन से ऊपर निकला हुआ वह मोटा भाग जिसके ऊपरी सिरे पर डालियां निकली होती हैं, धड़। - - - -
तनखाह स्त्रीलिंग - - - - वेतन। - - - -
तन्मयता स्त्रीलिंग - - - - मग्न अथवा दत्तचित होने की अवस्था, गुण या भाव। - - - -
तपस्या स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - मन की शुद्धि, मोक्ष की प्राप्ति, पाप के प्रायश्चित आदि के लिए स्वेच्छा से किए जानेवाला कठोर आचरण और नियमपालन, तप; कष्ट-सहन। - - -
तब क्रिया विशेषण क्रिया विशेषण क्रिया विशेषण - - उस समय; बाद में; उस कारण। - -
तबीयत स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - स्वास्थ्य की दृष्टि से किसी की शारीरिक या मानसिक स्थिति, मिज़ाज; मन का रुझान, प्रवृत्ति। - - -
तमगा पुंलिंग - - - - पदक (मेडल)। - - - -
तमाचा पुंलिंग - - - - थप्पड़, झापड़, चांटा। - - - -
तमाशा पुंलिंग पुंलिंग - - - मनोरंजक दृश्य; अद्भुत बात। - - -
तय करना विशेषण विशेषण - - - फैसला या निर्णय अथवा निश्चित करना; (रास्ता आदि) पूरा या समाप्त करना। - - -
तरंग स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - पानी की लहर, हिल़ोर; उमंग; स्वरलहरी। - -
तरकीब स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - उपाय, युक्ति; ढंग, तरीका। - - -
तरक्की स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - प्रगति, बढ़ोतरी, उन्नति; पदवृद्धि, पदोन्नति। - - -
तरह स्त्रीलिंग - - - - ढंग, प्रकार, तरीका, किस्म। - - - -
तरीका पुंलिंग पुंलिंग - - - रीति, ढंग; उपाय, युक्ति। - - -
तरुण विशेषण - - - - जवान। - - - -
तर्क पुंलिंग - - - - युक्ति, दलील। - - - -
तल पुंलिंग पुंलिंग - - - निचला भाग, पेंदा, तला; ऊपरी सतह। - - -
तलवा पुंलिंग - - - - पैर का नीचे का भाग; पदतल। - - - -
तलवार पुंलिंग - - - - खड्ग, कृपाण। - - - -
तला पुंलिंग पुंलिंग - - - पेंदा; जूते के नीचे का चमड़ा। - - -
तलाक पुंलिंग - - - - वैधानिक रीति से विवाह संबंध का विच्छेद। - - - -
तसल्ली स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - ढाढस, दिलासा, सांत्वना; संतोष। - - -
तसवीर स्त्रीलिंग - - - - चित्र। - - - -
तस्कर पुंलिंग - - - - देय शुल्क चुकाए बिना अवैधानिक रूप से एक देश का माल दूसरे देश में पहुंचाने वाला (स्मगलर)। - - - -
तह स्त्रीलिंग - - - - परत। - - - -
ताकना सकारात्मक क्रिया - - - - देखना। - - - -
तागा पुंलिंग - - - - डोरा - - - -
ताज पुंलिंग - - - - राजमुकट। - - - -
ताजा विशेषण विशेषण - - - जो अधिक दिनों का या बासी न हो; प्रफुल्लित और स्वस्थ। - - -
ताड़ी स्त्रीलिंग - - - - ताड़ के वृक्ष से निकला हुआ सफेद मादक रस। - - - -
ताना-बाना पुंलिंग - - - - बुनाई के समय क्रमश: लंबाई तथा चौडाई के बल फैलाए या बुने जाने वाले सूत। - - - -
ताप पुंलिंग पुंलिंग पुंलिंग - - उष्णता, गरमी; ज्वर, बुखार; उष्मा। - -
तापमान पुंलिंग - - - - थर्मामीटर आदि द्वारा मापी गई ताप की मात्रा (टेम्परेचर)। - - - -
ताम्रपत्र पुंलिंग पुंलिंग - - - तांबे की पत्तर; तांबे की वह पत्तर जिस पर महत्वपूर्ण बात स्थायी रूप से लिखी गई हो। - - -
तार पुंलिंग पुंलिंग - - - धातु का तागा-रूप (वायर); तार द्वारा समाचार या वह कागज जिस पर उक्त समाचार पहुंचाया जाता है। - - -
तारकोल पुंलिंग - - - - अलकतारा, काले रंग का एक गाढ़ा द्रव जो लकड़ी आदि रंगने के काम आता है। - - - -
तारतम्य पुंलिंग - - - - क्रम, क्रमबद्धता। - - - -
तारा पुंलिंग पुंलिंग - - - नक्षत्र, सितारा; आंख की पुतली। - - -
तारीख स्त्रीलिंग - - - - दिनांक, तिथि। - - - -
तालमेल पुंलिंग - - - - समन्वय, संगति। - - - -
ताला पुंलिंग - - - - जंदरा (लाक)। - - - -
तालाबंदी स्त्रीलिंग - - - - कारखाने आदि का उसके मालिक द्वारा अनिश्चित काल के लिए बंद किया जाना। - - - -
तालाब पुंलिंग - - - - पोखर, सरोवर। - - - -
तालिका स्त्रीलिंग - - - - सूची। - - - -
तावीज़ पुंलिंग - - - - चांदी, सोने आदि का वह छोटा संपुट जो रक्षा कवच के रूप में गले या बांह पर पहना जाता है। - - - -
ताश पुंलिंग - - - - गत्ते या दफ्ती के 52 पत्ते जिनसे विभिन्न खेल खेले जाते है (प्लेंइग कार्ड)। - - - -
तिजोरी स्त्रीलिंग - - - - लोहे की वह मजबूत छोटी अलमारी या पेटी जिसमें कीमती वस्तुएं सुरक्षा की दृष्टि से रखी जाती हैं (सेफ)। - - - -
तिथि स्त्रीलिंग - - - - चन्द्रमास कें किसी पक्ष का कोई दिन अथवा उसे सूचित करने वाली कोई संख्या। - - - -
तिनका पुंलिंग - - - - तृण, घासफूस। - - - -
तिपाई स्त्रीलिंग - - - - बैठने या सामान रखने की तीन पायों वाली ऊंची चौकी। - - - -
तिमाही विशेषण - - - - हर तीसरे महीने का, त्रैमासिक। - - - -
तिरंगा विशेषण - - - - तीन रंगों वाला। - - - -
तिरपाल पुंलिंग - - - - राल या रोगन चढ़ाया हुआ एक प्रकार का मोटा कपड़ा। - - - -
तिलक पुंलिंग - - - - केसर, चंदन आदि से ललाट पर लगाई जाने वाली गोल बिंदी या लंबी रेखा, टीका। - - - -
तिलमिलाना अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया - - - बेचैन या विकल होना; बौखलाना। - - -
तिलांजलि स्त्रीलिंग - - - - सदा के लिए किसी से संबंध विच्छेद। - - - -
तीक्ष्ण विशेषण विशेषण - - - तेज नोक या धार वाला, तीखा, तेज; उग्र, कटु। - - -
तीखा विशेषण विशेषण विशेषण - - कटु, अप्रिय; चरपरे स्वाद वाला; तेज नोक या धार वाला। - -
तीर पुंलिंग पुंलिंग - - - नदी का किनारा, तट; बाण। - - -
तीर्थ पुंलिंग - - - - धार्मिक दृष्टि से पवित्र स्थल, पुण्य क्षेत्र। - - - -
तीली स्त्रीलिंग - - - - माचिस की सलाई। - - - -
तुकबंदी स्त्रीलिंग - - - - साधारण पद्य रचना। - - - -
तुतलाना अकारात्मक क्रिया - - - - शब्दों का अस्पष्ट उच्चारण। - - - -
तुम सर्वनाम - - - - तू का बहुवचन जिसका प्रयोग बराबर के व्यक्ति के लिए किया जाता है। - - - -
तुम्हारा सर्वनाम - - - - तुम का षष्ठी विभक्ति लगने पर बनने वाला रूप। - - - -
तुरंत क्रिया विशेषण - - - - शीघ्र, झटपट। - - - -
तुरपना सकारात्मक क्रिया - - - - सूई धागे से बड़े-बड़े टांके लगाना या सीना। - - - -
तुला स्त्रीलिंग - - - - तराजू, कांटा। - - - -
तुलादान पुंलिंग - - - - अपने शरीर के भार के बराबर तोल कर दिया जाने वाला अन्न, द्रव्य आदि का दान। - - - -
तुषारपात पुंलिंग - - - - बर्फ का गिरना, हिमपात। - - - -
तू सर्वनाम - - - - एक सर्वनाम जिसका प्रयोग मध्यम पुरुष एकवचन में अपने से छोटे व्यक्ति के लिए किया जाता है। - - - -
तूफान पुंलिंग - - - - बहुत तेज चलने वाली विशेष रूप से समुद्र तल से उठने वाली आंधी जिसके साथ खूब बादल गरजते है और वर्षा होती है। - - - -
तूलिका स्त्रीलिंग - - - - चित्र अंकित करने की कूंची। - - - -
तृण पुंलिंग - - - - तिनका, घास। - - - -
तृप्ति स्त्रीलिंग - - - - आवश्यकता अथवा इच्छा पूरी हो जाने पर मिलने वाली मानसिक शांति या आनंद। - - - -
तेज पुंलिंग पुंलिंग विशेषण विशेषण - दीप्ति; प्रताप। तीक्ष्ण पैनी धार वाला; प्रखर, प्रचंड। -
तेरा सर्वनाम - - - - तू का संबंध कारक का रूप। - - - -
तेल पुंलिंग - - - - तिलहन के बीजों या कुछ विशिष्ट वनस्पतियों को पेर कर निकाला जाने वाला स्निग्ध तरल पदार्थ। - - - -
तेली पुंलिंग - - - - तेल पेरने और बेचने का पेशा करने वाली एक जाति। - - - -
तैयार विशेषण विशेषण विशेषण - - कुछ करने के लिए हर तरह से उद्यत; जो पक कर खाने योग्य हो गया हो; जो बन कर बिल्कुल ठीक और हर प्रकार से दुरस्त हो गया हो। - -
तैरना सकारात्मक क्रिया - - - - किसी जीव का हाथ पैर आदि चलाते हुए पानी में इस प्रकार आगे बढ़ना कि वह डूब न जाए। - - - -
तैराक पुंलिंग - - - - वह व्यक्ति जो अच्छी तरह तैरना जानता हो। - - - -
तोड़ना सकारात्मक क्रिया सकारात्मक क्रिया - - - किसी वस्तु को ऐसा खंडित या नष्ट करना कि वह काम में आने योग्य न रह जाए; किसी नियम, कानून आदि का पालन न करना। - - -
तोड़फोड़ स्त्रीलिंग - - - - जान-बूझ कर क्षति पहुंचाने के उद्देश्य से किसी भवन या रचना को खंडित करना। - - - -
तोरण पुंलिंग पुंलिंग - - - किसी बड़ी इमारत या नगर का प्रवेश द्वार। प्राय: शोभा या सजावट के लिए बनाए जाने वाला अस्थायी स्वागत-द्वार। - - -
त्याग पुंलिंग - - - - किसी चीज पर अपना अधिकार या स्वत्व हटा लेने अथवा उसे छोड़ने की क्रिया। - - - -
त्योहार पुंलिंग - - - - कोई धार्मिक, सांस्कृतिक या जातीय उत्सव। - - - -
त्रस्त विशेषण विशेषण - - - बहुत अधिक डरा हुआ, भयभीत; पीड़ित। - - -
त्रिशूल पुंलिंग - - - - लोहे का तीन फलों वाला एक प्रसिद्ध अस्त्र जो शिवजी का प्रधान अस्त्र है। - - - -
थकना अकारात्मक क्रिया अकारात्मक क्रिया - - - श्रम के कारण शिथिल होना, श्रांत होना; उत्साह न रह जाना, हार जाना। - - -
थन पुंलिंग - - - - गाय, बकरी आदि चौपायों का वह अंग जिसमें दूध जमा रहता है, स्तन। - - - -
थपथपाना सकारात्मक क्रिया - - - - प्यार या लाड-चाव से अथवा आवेश शांत करने के लिए किसी की पीठ पर हथेली से धीर-धीरे थपथपाना। - - - -
थप्पड़ पुंलिंग - - - - चाटा, तमाचा। - - - -
थलचर पुंलिंग - - - - पृथ्वी पर रहने वाले जीव। - - - -
थलसेना स्त्रीलिंग - - - - वायुसेना और नौसेना से भिन्न वह सेना जिसका कार्य क्षेत्र मुख्यत: स्थल तक सीमित हो (आर्मी)। - - - -
थाती स्त्रीलिंग स्त्रीलिंग - - - धरोहर, अमानत; जमापूंजी, संचित धन। - - -
थान पुंलिंग - - - - एक निश्चित लंबाई का कपड़ें का टुकड़ा। - - - -
थाना पुंलिंग - - - - पुलिस चौकी, पुलिस कार्यालय। - - - -
थापी स्त्रीलिंग - - - - राज या मजदूर द्वारा छत पीटने के लिए प्रयोग में लाई जाने वाली चिमटी। - - - -
थिरकना अकारात्मक क्रिया - - - - नाचने में अंगों को हाव-भाव के साथ संचालित करना। - - - -
थूकना अकारात्मक क्रिया - - - - मुंह से थूक बाहर निकाल फेंकना। - - - -
थूथन पुंलिंग - - - - कुछ विशिष्ट प्रकार के पशुओं का लंबोतरा और कुछ आगे की ओर निकला हुआ मुंह। - - - -
थैला पुंलिंग - - - - झोला, कपड़े, टाट आदि का आधान जिसमें चीजें रखी जाती हैं। - - - -
थोक पुंलिंग पुंलिंग - - - एक ही तरह की बहुत सी चीजों का ढेर या राशि; चीजें खरीदने-बेचने का वह प्रकार जिसमें बहुत सी चीजें एक साथ इकट्ठी खरीदी बेची जाती हैं। (खुदरा या फुटकर का विपर्याय) - - -
थोड़ा विशेषण क्रिया विशेषण - - - अल्प मात्रा या मान, उचित से कम। अल्प मात्रा में, कुछ, जरा। - - -