संग्रहण

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

संग्रहण संज्ञा पुं॰ [सं॰ सङ्ग्रहण]

१. स्त्री को हर ले जाने की क्रिया ।

२. ग्रहण ।

३. प्राप्ति ।

४. नगों को जड़ने की क्रिया ।

५. मैथुन । सहवास ।

६. व्यभिचार ।

७. स्त्री के स्तन, कपोल, केश, जंधा आदि वर्ज्य स्थानों का स्पर्श । विशेष—स्मृतियों में इस अपराध के लिये कठोर दंड लिखा गया है ।

८. सहारा देना । प्रोत्साहन । बढा़वा (को॰) ।

९. संकलन । संचय करना (को॰) ।

१०. नियंत्रण । वशीभूत या अपनी ओर करना (को॰) ।

११. आशा करना (को॰) ।

१२. उल्लेख करना (को॰) ।

१२. मिलावट । मिश्रण (को॰) ।