सञ्जन

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

संजन संज्ञा पुं॰ [सं॰ सञ्जन]

१. बाँधने की क्रिया ।

२. बंधन

३. बिखरे हूए अंगों आदि को मिलाकर एक करना । संघट्टन ।