समन्दर

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

समंदर संज्ञा पुं॰ [फ़ा॰]

१. एक कीड़ा जिसकी उत्पत्ति अग्नि से मानी जाती ।

२. समुद्र [को॰] ।