हठधर्म

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

हठधर्म संज्ञा पुं॰ [सं॰] अपने मत पर उचित अनुचित या सत्य असत्य का विचार छोड़कर जमा रहना । दुराग्रह । कट्टरपन ।