अँकाई

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँकाई संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ श्रङ्क, हि॰ अँक (आँक, आँकना, अँकना) + आई (प्रत्य॰)]

१. कूत । अंदाजा । अटकल । तखमीना ।

२. फसल में से जमींदार और, काश्तकार के हिस्सों का ठहराव । मूल्य लिखा जाना । क्रि॰ प्र॰— करना । —होना ।

३. आँकने का पारिश्रमिक या मजदूरी ।