अँकुड़ी

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँकुड़ी संज्ञा स्त्री॰ [हि॰ अँकुड़ा का अल्पार्थक प्रयोग] [वि॰ अँकुड़ी- दार]

१. छोटा अँकुड़ा । टेढी कँटिया । हुक ।

२. लोहे का एक छड़ जिसका सिरा कुछ झुका रहता है और जिससे लोहर लोग भट्ठी की आग खोदते है ।

३. हल की वह लकड़ी फाल लगाया जाता है ।

४. एक्के के पहिए के जोड़े पुर लगी हुई लोहे की कील या जोंकी ।