अँगन

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँगन पु संज्ञा पुं॰ [ सं॰ अङ्गण, अङ्गन ] आँगन । चौक । उ॰— डहडहे बदन निरखि सिसु भूले । कंचन जलज अँगन जनु फूले ।—नंद ग्रं॰, पृ॰ ३०२ ।