अँगुष्ठ

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँगुष्ठ पु संज्ञा पुं॰ दे॰ 'अंगुष्ठ' । उ॰—सुभग अँगुष्ठ अंगुली अबिरल, कछुक अरुन नखज्योति जगमगति ।—तुलसी ग्रं॰, पृ॰ ४१५ ।