अँगेट

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँगेट पु संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ अङ्ग] अंगो की दीप्ति या कांति । उ॰— (क) एड़ी तें सिखा लों है अनूठिए अँगेट आछी ।—रसखान॰, पृ॰ १२० । (ख) साँवरे छैल की आछी अँगेट पै काम करोरिक वारियै जोहि कै ।—घनानंद॰, पृ॰ ४७ ।