अँगोछा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँगोछा संज्ञा पुं॰ [सं॰ अङ्गोच्छ] [स्त्री॰ अँगोछी] [पू॰ गमछा- गमछी]

१. दह पोछने का कपड़ा । तौलिया ।

२. ऊपर रखने के लिये एक कपड़े का टुकड़ा । इसे प्रायः लोग कंधे पर रखते हैं । उपरना । उपवस्त्र । उ॰—वासन ढाँकि अँगोछा डारा । हाँ से भोजन काढ़ि निकारा ।—रत्न॰ पृ॰ १९८ । कि॰ प्र॰—लेना=पोंछना । उ॰—चरन पखारि अँगोछा लीन्हा ।—कबीर सा॰ ।