अँजाना

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँजाना क्रि॰ स॰ दे॰ 'अँजवाना' । उ॰—आँख अँजाइ पहिरि कर चुरी, हारि मोहन गिरधारी ।—भारतेदुं ग्रं॰ भा २, पृ॰ ३८१ ।