अँतरौटा

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँतरौटा संज्ञा पुं॰ [सं॰ अन्तरपट] महीन साड़ी के नीचे पहनने का कपड़ा । वह कपड़े का टुकड़ा जिसे स्त्रियाँ इसलिये कमर में लपेट लेती है जिसमें महीन साड़ी के ऊपर से शरीर न दिखाई दे । अस्तर । छनना । उ॰—चोली चतुरानन ठग्यो श्रमर उपरना राते । अँतरोटा अबलोकि कै असुर महा मद माते (हो) ।-सूर॰, १ ।४४ ।