अँधकाल

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँधकाल पु संज्ञा पुं [सं॰ अन्ध+काल] अंधकार । अँधेरा । उ॰— सूर कंचन गिरि बिचनि मनु रह्यो है अँधकाल ।— सूर॰ १० । १०८३ ।