अँधियार

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँधियार ^१ † संज्ञा पुं॰ [सं॰ अन्धकार;प्रा॰ अंधयार] [स्त्री॰ आंधियारी] अँधेरा । अँधकार । तम । उ॰—पसरि परचौ आँधियार सकल संसार घुमड़ि घिरि ।—नंद ग्रं॰, पृ॰ ४ ।

अँधियार ^२ वि॰ प्रकाशरहित । अँधेरा । तमाच्छादित । दे॰ 'अँधेरा' । उ॰—भय उदधि जमलोक दरसै निप्ट ही आँधियार ।—सूर॰, १ ।८८ ।