अँधियाली

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अँधियाली वि॰ दे॰ 'अँधियारी' ^२ । उ॰—आधी रात का समा, बडी़ अँधियालो रात, सब ओर सन्नाटा, इसपर बादलों की घेरघार, पसारने पर हाथ भी न सूझता ।— ठैठ, पृ॰३२ ।