अंगग्रह

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अंगग्रह संज्ञा पुं॰ [ सं॰ अङ्ग्रह]

१. एक रोग जिससे देह में पीड़ा होती है ।

२. स्थापत्य में पत्थरों के एक दुसरे के ऊपर फिसल न जाने बीच अथवा उनके जो़ड़ों को अलग होने से रोकने के लिये उनके बीच बैठाया जानेवाला कबूतर की पूँछ के आकार का लोहे या ताँबे का एक टुकड़ा । पाहू ।