अंचल

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अंचल संज्ञा पुं॰ [सं॰] साड़ी वा ओढ़नी का वह भाग जो सिर अथवा कंधे पर से होता हुआ सामने छाती पर फैला हुआ हो । साड़ी का छोर । आँचल । पल्ला । छोर । अँचरा । उ॰— बहुरि बदन बिधु अंचल ढाँकी ।—मानस, २ ।११७ ।

२. दुपट्टा । उपरना । उ॰—लोचन सजल प्रेम पुलकित तन गर अंचल कर माल ।—सुर॰, १ ।१८९ ।

३. किसी प्रदेश या स्थान आदि का एक भाग । उ॰—वन गृहा कुंज मरु अंचल