अकारी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अकारी पु वि॰ [सं॰ अ+कारिन्]

१. अनर्थ करनेवाला । अनर्थकारी । उ॰—गौर मुष्ष वपु स्याम गिरन सम नख्य अकारिय ।—पृ॰ रा॰, २ ।२८७ ।

२. तीक्ष्ण (डिं॰) । उ॰—आरंभ अति फौज अकारी दिल्लीपति पूगौ रहबारी ।—राज रू॰, पृ॰ ५६ ।