अकुण्ठधिष्ण्य

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अकुंठधिष्ण्य संज्ञा पुं॰ [सं॰ अकुण्ठधिष्ण्य] नित्य निवास । स्वर्ग [को॰] ।