अगरु

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अगरु संज्ञा पुं॰ [सं॰ अगुरु] अगर लकड़ी । ऊद । उ॰—अगरु चंदन की चीता थी सेज । —साकेत, पृ॰ १९८ ।