अटनी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अटनी ^१ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰]

१. धनुष के सिरे का वह भाग या खाँचा जहाँ प्रत्यंचा या डोरी बाँधी जाती है [को॰] ।

अटनी पु ^२ संज्ञा स्त्री॰ [सं॰अटन=घूमना] अटन की क्रिया कलाबाजी । उ.—जैसे बरत बाँस चढ़ि नटनी । बारंबार करे नहाँ अटनी ।—सुदंर॰ ग्रं॰, भा॰ १, पृ॰ ९८ ।