अति

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अति ^१ वि॰ [सं॰] बहुत । अधिक । ज्यादा । उ॰—अति डर तें अति लाज तें जो न चहै रति बाम ।—पझाकर ग्रं॰, पृ॰ ८६ ।

अति ^२ संज्ञा स्त्री॰ अधिकता । ज्यादती । सीमा का उल्लंघन या अतिक्रमण । उ॰—(क) गंगा जू तिहारो गुनगान करै अजगैब आनिहोति बरखासु आनँद की अति है ।—पदमाकर ग्रं॰, पृ॰ २५८ । (ख) उनके ग्रंथ में कल्पना की अति है ।—व्यास (शब्द॰) ।