अतिवाद

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अतिवाद संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. खरी बात । सच्ची बात ।

२. परुष वचन

३. बढ़ी चढ़ी बात । डींग ।

४. औचित्य या मर्यादा का अतिक्रमण कर जाने का सिद्धांत । उ॰—छोड़कर जीवन के अतिवाद मध्य पथ से लो सुगति सुधार ।—लहर, पृ॰ १३ ।