अदब

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अदब संज्ञा पुं॰ [अ॰]

१. शिष्टाचार । कायदा । बड़ों का आदर, संमान । उ॰—दौलते दीवार जाए पर अदब जाने न पाए । —शेर॰, पृ॰ ३०९ । मु.—अदब की जगह—वह व्यक्ति, स्थान या वस्तु जिसका लिहाज करना जरूरी होता है । क्रि॰ प्र॰करना ।

अदब लिहाज संज्ञा पुं॰ [अ॰] आदर संमान [को॰] ।