अदा

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अदा ^१ वि [अ॰] चुकता । बेबाक । दिया हुआ । उ॰—जान दी, दी हुई उसी की थी । हक तौ यह है कि हक अदा न हुआ ।—शेर॰, भा॰ १, ४९३ । क्रि॰ प्र॰— करना । जैसे—उसने तुम्हारा सब रुपया अदा कर दिया (शब्द) ।—होना । जैसे—तुम्हारा कर्ज अदा हो गया (शब्द) । मुहा.—अदा करना=पालन करना या पूपा करना । जैसे— सबको अपना फर्ज अदा करना चाहिए । (शब्द) । यौ॰—अदाए जर डिगरी=डिगरी के देने या रुपए को देना । अदाबंदी=किसी रुपए के बेबाक करने या देने के लिये किस्त या समय का नियत करना । किस्तबंदी । अदा या बेबाक करना=सब चुकता कर देना । कौड़ी कौड़ी दे डालना । अदाएमालगुजारी= मालगुजारी का देना । अदाए शहादत=गवाही देना ।

अदा ^२ संज्ञा स्त्री॰

१. भाव । हाव भाव । नखरा । मोहित करने की चेष्टा । उ॰—सगरब गरब खिचैं सदा चतुर चितेरे आय । पर वाकी बाँकी अदा नेकु न खींची जाय ।— स॰ सप्तक॰, पृ॰ २६५ ।

२. ढंग । तर्ज । आन । अंदाज । उ॰—इस अदा से मुझे सलाम किया । एक ही आन में गुलाम किया ।—शेर॰, भाग

१. पृ॰ ३६२ ।