अनुनासिक

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अनुनासिक ^१ वि॰ [सं॰] जो (अक्षर) मुँह और नाक से बोला जाय ।

अनुनासिक ^२ संज्ञा पुं॰

१. मुख और नासिका के योग से उच्चरित वर्ण जैसे,—ङ, ञ, अ, ण, न, म और अनुस्वार ।

२. नाक से बोली जानेवाली ध्वनि ।