अरब

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

अरब ^१ संज्ञा पुं॰ [स॰ अर्बुद]

१. सौ करोड़ । संख्या में दसवाँ स्थान ।

२. इस स्थान की संख्या ।

अरब ^२ संज्ञा पुं॰ [सं॰ अर्वन्]

१. घोड़ा ।

२. इंद्र । उ॰—सरब गरबंत अरब अरब ऐसे अरब के अरब चरब जहराय के ।— गोपाल (शब्द॰) ।

अरब ^३ संज्ञा पुं॰ [अ॰]

१. एक मरु देश जो एशिया खंड के पश्चिम- दक्षिण भाग में और भारतवर्ष से पश्चिम है । यहाँ इस्लाम धर्म के प्रवर्तक मुहम्मद साहब उत्पन्न हुए थे । यहाँ घोड़े, ऊँट और छुहारे बहुत होते हैं ।

२. अरब देश का उत्पन्न घोड़ा

३. अरब का निवासी ।