अलग

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

अलग वि॰ [सं॰ अलग्न प्रा॰ अलग्न]

१. जुदा । पृथक् । न्यारा । भिन्न । अलहदा । उ॰—संपति सकल जगत्र की स्वासा सम नहिं होइ । सो स्वासा तजि राम पद तुलसी अलग न खोइ ।—स॰ सप्तक, पृ॰ ४ । क्रि॰ प्र॰—करना । रखना ।—होना । मुहा॰—अलग करना=(१) जुदा करना । दूर करना । हटाना । खसकाना । जैसे—इसे हमारे सामने से अलग करो । (२) छुड़ाना । बरखास्त करना; जैसे—मैंने उस नौकर को अलग कर दिया । (३) चुनना । छाँटना । (४) बेच डालना; जैसे—उसने उस घोड़े को अलग कर दिया । (५) निपटाना । समाप्त करना; जैसे—थोड़ा सा बचा है, खा पीकर अलग करो ।

२. बेलाग । बचा हुआ । रक्षित; जैसे—घबराओ मत, तुम्हारा बच्चा अलग है । यौ॰—अलग अलग=दूर दूर । जुदा जुदा ।