अलर्क

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अलर्क संज्ञा पुं॰ [सं॰]

१. पागल कुत्ता ।

२. सफेद आक या मदार ।

३. एक प्राचीन राजा जिसने एक अंधे ब्राह्मण के माँगने पर अपनी देनों आँर्खे निकालकर दे दी थीं ।

४. शूकर जैसै एक आठ पैरोंवाला जंतु [को॰] ।

५. एक तरह का कीड़ा [को॰] ।