अशांत

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search

हिन्दी

प्रकाशितकोशों से अर्थ

शब्दसागर

अशांत वि॰ [सं॰ अशान्त] जो शांत न हो । अस्थिर । चंचंल । डाँवाँडोल । उ॰—यही तो, मैं ज्वलित वाड़व वह्नि नित्य अशांत ।-कामयनी, पृ॰ ८५ ।

२. अपवित्र । अधार्मिक [को॰] ।

३. पाँचों तन्मात्राओं में से एक ।