असामी

विक्षनरी से
Jump to navigation Jump to search


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

असामी ^१ संज्ञा पुं॰ [अ॰ आसामी]

१. व्यक्ति । प्राणी; जैसे- वह लाखों का असामी है (शब्द) ।

२. जिससे किसी प्रकार का लेन देन न हो । जैसे, वह बड़ा खरा आसीमी है, रुपया तुरंत देगा (शब्द) ।

३. वह जिसने लगान पर जोतने के लिये जमींदार से खेत लिया हो । रैयत । काश्तकार । जोता ।

४. मुद्दलेह । देनदार ।

५. अपराधी । मुलजिम; जैसे,— आसामी हवालत से भाग गया । (शब्द) ।

६. दोस्त । मित्र । सुहृद । जैसे- चलो तो, वहाँ बहुत असामी मिल जाएँगे (शब्द॰) ।

७. ढंग पर चढ़ाया हुआ आदमी । वह जिससे किसी प्रकार का मतलब गाँठना हो । यौ॰— खरा आदमी= चटपट दाम देनेवाला आदमी । ड़ूबा असमी= गया गुजरा । दिवालिया । मोटा असामी= धनी पुरुष । लीचड़ असामी=देने में सुस्त । नादिहंद । मुहा॰—असामी बनाना=अपने मतलब पर चढ़ाना । अपनी गौं का बनाना ।

असामी ^२ संज्ञा स्त्री॰

१. परकीया या वेश्या । रखेली; जैसे,— तुम्हारी असामी को कोई उड़ा ले गया (शब्द॰) ।

२. नौकरी । जगहा; जैसे,— कोई असामी खाली हो तो बतलाना (शब्द॰) ।