आँवल

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

आँवल संज्ञा पुं॰[सं॰ उल्वम=जरायु । अथवा, अंबर = आच्छादन] झिल्ली जिससे गर्भ में बच्चे लिपटे रहते हैं । यह झिल्ली प्राय: बच्चा होने पीछे गिर जाती है । खेंड़ी । जेरी । साम । यौ॰ — आँवल नाल ।