इंतकाल

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

इंतकाल संज्ञा पुं॰ [अं॰ इंतकाल]

१. मृत्यु । मौत । परलोकवास ।

२. एक जगह से दूसरी जगह जाना ।

३. किसी जायदाद या संपत्ति का एक के अधिकार से दूसरे के अधिकार में जाना । यौ॰.— इंतकाल जायदाद = रेहन, वय आदि के कारण संपत्ति का दूसरे के हाथ जाना ।