इंदुकला

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

इंदुकला संज्ञा स्त्री॰ [सं॰ इन्दुकला]

१. चंद्रमा की कला ।

२. चंद्रमा की किरन । उ॰—भाल लाल बेंदी ललन, आखत रहे बिराजि । इंदुकला कुज में बसी, मनौ राहु भय भाजि ।—बिहारी र॰, दो॰ ६९० ।

३. अमृत । पीयूष (को॰) ।

४. सोमलता । सोम (को॰) ।

५. गुडूची गुरुच (को॰) ।