इसराज

विक्षनरी से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दी[सम्पादन]

प्रकाशितकोशों से अर्थ[सम्पादन]

शब्दसागर[सम्पादन]

इसराज संज्ञा पुं॰[अ॰] एक प्रकार का सारंगी की तरह का बाजा । उ॰— इधर परदादी चंपाकली ने इसराज सँभालकर पीलू का रियाज करना आरंभ किया । — शराबी, पृ १७ ।